milap singh bharmouri

milap singh bharmouri

Friday, 30 November 2018

सब्बी तौं छैल इंदा भरमौर।

लानी करा असू ठार कोई होर।

सब्बी तौं छैल इंदा भरमौर।

ऊचे ऊचे पहाड़ मंज चौरासी रे मन्दिर


ठीक भुची गन्दे इठी इची सब जंदर


सब मनु भोले इठी न कोई चोर


सब्बी तौं छैल इंदा भरमौर।

धुपा मंज जने सब दुनिया जलदी


ठंडी ठंडी व्यार भून्दी इठी तने चलदी


किन्ने छैल भुन्दे इठी सेओ कने खोड


सब्बी तौं छैल इंदा भरमौर।

बुद्ला री छेड़ बड़ी छाँय छाईं करदी


पहाड़ री चुंडी जियाँ चांदी साईं लगदी


कीड़े साईं हुजड़े सडका रे मोड़


सब्बी तौं छैल इंदा भरमौर।

........ मिलाप सिंह भरमौरी




No comments:

Post a comment