milap singh bharmouri

milap singh bharmouri

Tuesday, 15 May 2018

नटुआ भाई चीफ गेस्ट

नटुआ भाई चीफ गैस्ट
----------------------

अक्क थू नटुआ
अक्क थू चटुआ
अक्क थू बटुआ

थिए तरौ ही पक्के यार
यारी इन्ही के मरने जो तैयार

गर्मी रा टैम थू
तरौ बैखुरे थिए क्रूंई री छांई
नटुए रे मना मा अचानक
अक्क गल आई
बडे डुग्गे हा सोगी बंदा
गल हुन मेरे चटुए भाई

अंउ सोचू करदा
मनु इज्जत किंआ कमांदे ने
तिंआ जो हुनी करी
मनु ताली किंआ बजांदे ने

चटुआ बडा चालाक
सो हस्सु दी करी खडाक
ऐ ता नटुए
मेरे बांए हत्था रा कम्म हा
तूना भी पता निआ तुजो
तु ता जम हा

हुन
ऐस सीना री
इंआ करी सूरत हा
बस ऐस कम्मा तांए
बटुए भाई री जरूरत हा

बटुआ भी तिंआरा थू पक्का यार
झट भुची गो हुनी करी तैयार
चटुए ऐ कुन गल बल्ली हा
कम्मे कने इना बटुआ यार

चटुए झट तू गल्ला री
हकीकत बता
इंदे नटुए भाई री
मती सारी इज्जत बना

हां ता बटुए
इंआ करी करदै
दुई चौउर ग्रां रे
निके निके दब्बू जो हददै
मैच करांदे बैट बोल्ला रा
तै अपने नटुए भाई जो
चीफ गैस्ट हददै

नटुआ ते बटुआ अक्क दम उलरे
गल्ल ता भाई इज्जता बाली हा
पर खैडना इन ग्रां रे दब्बू
ऐ ता गल कुछ लगदी काली हा

के गल करदा
दब्बुए किंआ न इना
अपने पैसे सोगी असू
सब्बी टीमा जो
अक्क अक्क बैट दीना
तै जितने बाले जो
इक्की हौ इनाम भी
अपनी जैबा तांउ दीना

हारने वाले जो भी ट्रोफी तै
सब्बी खिलाडी जो मोमैंटो
फिरी किंआ न भुंदा
इंदे नटुए भाई जो
सब्बी कनारी तांउ थैंक यू थैंक यू

चटुए भाई तू ता
सच हा बडा भरी ग्यानी
तैंई ता मिंटा मंज
मुकाई दिती हा
नटुए भाई री परेशानी

    ....... मिलाप सिंह भरमौरी

नोट :  भाईयो ऐस रचना मंज सब पात्र काल्पनिक हिन . जे कस्सी सोगी समानता पाई गंदी हा ता ऐ मात्र संयोग ही भुना हा...

No comments:

Post a comment